आंतरिक लेखा परीक्षा

कार्य एवं दायित्व:-

  1. स्थानीय लेखा परीक्षा अधिकारियों द्वारा किए गए भंडार लेखाओं या अन्य जांचों के स्थानीय लेखा परीक्षा को प्रभावित करने वाले मामलों के संबंध में प्राप्तियों, जांच तथा सरकारी पत्रों का परिचालन इत्यादि ।

  2. जहां व्यावहारिक हो वहां अर्थव्यवस्था प्राप्त करने एवं नई राहों की खोज को ध्यान में रखते हुए रक्षा व्यय की जांच करना।

  3. स्थानीय लेखा परीक्षा कार्यालयों/क्षेत्रीय लेखा परीक्षा कार्यालयों तथा मुख्य कार्यालय के लेखा परीक्षा अनुभाग से प्राप्त वित्तीय सलाह उद्देश्यों हेतु अन्वेषण के लिए महत्वपूर्ण बिन्दुओं की जांच।

  4. नियंत्रक के स्वंय के कार्यालय के संगठन तथा अनेक अनुभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों की स्थानीय लेखा परीक्षा स्टाफ द्वारा निरंतर जांच एवं समीक्षा।

  5. तिमाही रिपोर्ट के प्रापण तथा रक्षा लेखा महानियंत्रक को प्रेषण सहित विभिन्न मामलों पर स्थानीय प्रशासनिक प्राधिकारियों को वित्तीय सलाह प्रदान करना। वित्तीय सलाह तथा प्रदान की गई उच्च लेखा परीक्षा के मदों को दर्शाना।

  6. कमान से बाहर होने वाले अथवा पृथक होने वाले यूनिटों और विरचनाओं की विशेष रिपोर्टों तथा बकाया आपत्तियों का निपटान किया जाना।

  7. स्थानीय नमूना लेखा परीक्षा रिपोर्टें।

  8. लेखा परीक्षा रिपोर्ट, रक्षा सेवाओं में सम्मिलित करने हेतु डी.ए.डी.एस. से प्राप्त स्थानीय लेखा परीक्षा के ड्राफ्ट पैरा।

  9. प्रमुख वित्तीय एवं लेखांकन अनियमितताओं पर तिमाही रिपोर्ट का संकलन एवं संपादन।

  10. वार्षिक लेखापरीक्षा प्रमाणपत्र का संकलन एवं रक्षा लेखा महानियंत्रक को प्रेषण।

  11. रक्षा लेखापरीक्षा कूट के पैरा 547 के अधीन विनियोजन लेखा में शामिल करने के लिए हानि विवरणियों की उच्च लेखा परीक्षा सहित लेखा परीक्षा तथा हानियों की विवरणी को तैयार किया जाना।

  12. लेखापरीक्षा तथा कार्यविधिक मामलों पर स्थानीय लेखा परीक्षा कार्यालयों/क्षेत्रीय लेखा परीक्षा कार्यालयों से संदर्भ।

  13. दौरे के नोट एवं समीक्षा करने वाले अधिकारी की रिपोर्टें।

  14. कैन्ट बोर्डों की लेखापरीक्षा निरीक्षण रिपोर्टें, लेखापरीक्षा नोट, तथा समेकित वार्षिक लेखा।

  15. छमाही आतंरिक लेखा परीक्षा का संपादन एवं मुख्यालय कार्यालय को प्रेषण।

  16. सक्षम प्राधिकारी के निदेशानुसार परियोजना लेखा की लेखा परीक्षा।